चाणक्य नीति Chanakya Neeti : स्वर्ग और नरक कहां है कैसा है ? 


यस्य पुत्रो वशीभूतो भार्या छन्दाsनुगामिनी।
विभवे यश्च संतुष्टस्तस्य स्वर्ग इहैव हि ॥
-- चाणक्य नीति                                              

                                                 जिसका पुत्र उसके वश में हो, पत्नी अनुगमन करने वाली यानि आज्ञानुसार चलने वाली हो और जो धन-वैभव यानि आर्थिक रूप से संतुष्ट हो, ऐसे मनुष्य के लिए इसी धरती में स्वर्ग है
                                             स्वर्ग और नरक का विचार आते ही मन चित्र-विचित्र कल्पनाओं की दुनिया में विचरने लगता है। स्वर्ग की कल्पना हम एक ऐसे सौंदर्य से परिपूर्ण, अलौकिक, निराली, आनंदमयी दुनिया से करते हैं जहां प्राणी की हर मनोकामना पूर्ण हो जाती होगी और वह स्थान सुख, समृद्धि, वैभव से परिपूर्ण होगा। वहीं नरक की कल्पना में एक ऐसा भयावह चित्र मानस पटल पर उभर कर आता है जो स्थान दुःख, शोक, भय, क्लेश, कलह, दरिद्रता, बीमारी, गंदगी, प्रताड़ना और आतंक से भयाक्रांत होगा।
                                                वैसे तो स्वर्ग और नरक के बारे में हमारी कल्पनाओं की कोई सीमा नहीं और दुनियाभर में इस पर अनेक मान्यताएं भी प्रचलित है। लेकिन इस बारे में प्रामाणिक रूप से आज तक कोई कुछ भी नहीं बता सका, क्योंकि इन दोनों जगहों में यदि कोई गया भी होगा तो कभी वापस लौटकर बताने नहीं आया।
                                                 इस श्लोक में आचार्य चाणक्य ने इस धरती को ही स्वर्ग बताया है। यदि संतान आपका कहना मानता है, पत्नी आपके इच्छानुसार चलने वाली है और जिसे अपने धन पर संतोष है तो ऐसे व्यक्ति ने इस धरती पर ही स्वर्ग को पा लिया।
                                                   चाणक्य के इस श्लोक का सार यही है कि स्वर्ग और नरक हमारे जीवन की स्थितियां हैं, जिसका अनुभव हमें इस धरती पर ही करना होता है। जब हम सुख, समृद्धि से पूर्ण, स्वस्थ व आनंदमय स्थिति में होते हैं, तो स्वर्ग का अनुभव करते हैं और जब दुःखी, चिंताग्रस्त, भयभीत और तकलीफ में होते हैं, तो नरक का अनुभव करते हैं।
                                                  यहां पर एक गहरी बात यह भी है कि स्वर्ग या नरक हमारे ही बनाए हुए हैं, यानि ये दोनों स्थितियां हमारे कर्मों से ही निर्मित होता है।
-- उमेश कुमार 

➽ दोस्तों 'सफलता सूत्र ' के  हमारे  यूट्यूब चैनेल 'सफलता सूत्र ' पर  चाणक्य नीति से  संबंधित ज्ञान सूत्र  विडियो  के रूप  में अवश्य देखें :- 
                                   https://youtu.be/JfIuFnFDB14