Halloween party ideas 2015

 दिमाग को रखना हो चुस्त-दुरुस्त तो पढ़ें हिंदी


                                         अनेक शोध से अब यह प्रमाणित हो चुका है कि  हिन्दी की लिपि देवनागरी, दुनिया की अन्य भाषाओँ व लिपियों की तुलना में सर्वश्रेष्ठ है। हिन्दी भाषा की लिपि देवनागरी में मात्रा और अक्षर घुमावदार होते हैं, जिसे ऊपर-नीचे, दाएं-बाएं पढ़ना पड़ता है। ऐसा करने से वह दिमाग के दोनों हिस्सों को सक्रिय रखती है, जबकि अंग्रेजी भाषा की लिपि रोमन को एक ही दिशा में पढ़ना होता है, जो दिमाग के सिर्फ बाएं हिस्से को सक्रिय रखता है।
                                         शोधकर्ताओं के मुताबिक अंग्रेजी की तुलना में हिन्दी  भाषा बोलने से दिमाग अधिक सक्रिय रहता है, इसलिए दिमाग को चुस्त दुरुस्त रखना हो तो हिन्दी भाषा का अधिक से अधिक प्रयोग करें और आवश्यकता हो तभी अंग्रेजी में बात करें।
                                         अपने मस्तिष्क को चुस्त दुरुस्त व सक्रिय बनाए रखना है तो हिन्दी  में लिखे, हिन्दी में वार्तालाप करें। अब तो इंटरनेट पर हिंदी में सैकड़ों ब्लॉग और वेबसाइट संचालित हैं इन्हें नियमित रूप से पढ़ने की आदत डालें। स्मार्टफोन में भी हिन्दी में लिखने के अनेक टूल्स (ऐप) उपलब्ध हैं, इनका प्रयोग अवश्य करें।

Post a Comment