Halloween party ideas 2015

होली पर विशेष
HOLI Articles in Hindi

ऐसे बचें रंगों की परेशानियों से -


                                         इन्द्रधनुषी रंगों से सराबोर रंग-बिरंगा रंगीला पर्व है होली। रंगों से खेलना भला किसे नहीं भाता। लेकिन होली के यही आकर्षक रंग जब शरीर पर लगकर अनेक प्रकार की परेशानियां खड़ी करता है तो खुशी के ये रंग फीके पड़ जाते हैं। 
                                        अत: जरूरी है होली खेलने से पहले कुछ समय निकालकर स्वयं को इसके लिए तैयार कर लें ताकि संभावित परेशानियों से बचा जा सके।
होली खेलने से पहले और होली खेलने के बाद,  रखें इन बातों का ख्याल -
-- होली खेलने से पहले शरीर के खुले भागों पर वैसलीन, तेल या कोल्ड क्रीम लगाएं। सरसों या नारियल का तेल लगाने से त्वचा पर रंगों की पकड़ ढ़ीली रहती है।
-- बालों पर तेल लगा लें। महिलाएं बालों में तेल लगाकर जूड़ा बांध लें, ताकि रंग बालों के अंदर न पहुंच सके। तेल लगाने से रंग छुड़ाने में आसानी रहती है।
-- आंखों व मुंह में होली के रंगों को जाने से बचाएं क्योंकि रसायनों से बने रंग नाजुक अंगों को नुकसान पहुंचा सकते हैं।
-- यथासंभव ढीले-ढाले, सूती व पूरे बांह तक कपड़े पहने, ताकि रंग त्वचा के संपर्क में सीधे न आ सके।
-- रंग लगवाते समय चेहरे को नीचे झुकाकर रखें एवं आंखें बंद कर लें।
-- होली खेलने के तुरंत बाद पानी और उबटन से रंगों को छुड़ाएं। उबटन का प्रयोग सुरक्षित रहता है।
-- रंग छुड़ाने के गर्म पानी का इस्तेमाल बिल्कुल न करें, गर्म पानी से रंग और पक्के हो सकते हैं।
-- ग्रीस, ऑइल पेंट, पेंट, कीचड़ आदि से दूर रहें, ये सभी स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकते हैं।
-- होली खेलने के बाद आंखें अच्छी तरह धोएं। हो सके तो गुलाब जल या आई ड्राप इस्तेमाल करें।
-- नहाने के बाद पूरे शरीर पर माइश्चराइजर जरुर लगाएं।
-- रंग निकालने के लिए त्वचा को किसी भी कठोर चीज से न रगड़ें।
-- महिलाएं हाथों व पैरों के नाखूनों पर नेल पॉलिश लगा लें ताकि उन पर रंग न चढ़े।
-- सिर पर सूखा रंग लगा हो तो धोने से पहले कंघी कर लें और बालों को सूखे टॉवेल से पोछ लें।

Post a Comment